अररिया जिला का इतिहास, जो आप नहीं जानते|Araria District

आज जानेंगे बिहार जिलों में से एक जिला अररिया (Araria) के बारे में, अगर आप अररिया जिला के बारे में जानना चाहते है तो आप इस पोस्ट को ध्यान से पढ़े |

अररिया जिला के बारे में

अररिया जिला बिहार के प्रमुख जिलों में से एक जिला है | अररिया पूर्णिया जिला का एक अंग था जो पूर्णिया जिला से अलग होकर 14 फरवरी 1990 को बिहार का एक स्वतंत्र जिला बना | 1947 से पूर्व अंग्रेजों के ज़माने में यह क्षेत्र श्री फोर्बेर्स का बंगला यही पर था| जिससे यह क्षेत्र रेजिडेंशियल एरिया कहा जाने लगा | रेजिडेंशियल एरिया को शोर्ट में आर एरिया कहते है | और धीरे धीरे अररिया का नाम प्रचलन में आगया | 1990 के पूर्व जिला पूर्णिया जिला का एक अंग था जिस वजह से अररिया का इतिहास पूर्णिया जिला के इतिहास से मिलता जुलता प्रतीत होता है |जिला 28-30 किलोमीटर स्क्वायर में फैला हुआ है | इस जिला में विश्व प्रसिद्द साहित्यकार फणीश्वर नाथ रेणु ने जन्म लिया था| पुस्तक पर कई फ़िल्में बनी है | मैला आँचल पुस्तक के लिए पद्मश्री अवार्ड भी मिला है | कृषि क्षेत्र में भी सबसे आगे है | 

अररिया जिला की समस्या 

जिला के सबसे बड़ी समस्या बाढ़ हर साल अगस्त के महीने में ग्रामीण इलाको का क्षेत्र बाढ़ के पानी से डूब जाता है | इससे यहाँ के किसान को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है | लेकिन बाढ़ का पानी हर वर्ष जिला के जमीं को मजबूत कर देती है | अपने फसल में ज्यादा खाद्द का इस्तेमाल नहीं करना पड़ता है | यहाँ के मुख्या फसल में धान,मक्का,पटवा,मखाना,इत्यादि है|

अररिया जिला किस पर निर्भर है?

अररिया जिला का अधिकतर जनसँख्या कृषि पर निर्भर है | जिला के लोगों का आय का मुख्य श्रोत व्यापर और कृषि है |

अररिया जिला का साक्षरता दर 

अररिया जिला साक्षरता दर काफी कम है जबकि यह गणना 2001 के अनुसार है लेकिन अभी के समय में यहाँ की साक्षरता दर में अच्छी वृद्धि हुई है, लेकिन विश्व अस्तर पर देखा जाये तो साक्षरता दर विरधी की रफ़्तार काफी धीमी है, इस जिला ने काफी प्राप्त IAS ऑफिसर देश को दिए है | अररिया जिला में ख्याति प्राप्त कवी हारून रशीद गाफिल का जन्म हुआ था |

अररिया जिला जनसंख्या 

अररिया मुख्य रूप से ग्रामीण जिला है यहाँ के गाव में 93 प्रतिशत जनता निवास करते है | जनगणना के अनुसार 28 लाख और वर्तमान में जनसँख्या लगभग 45 लाख हो सकती है | जिला अररिया भाईचारे और मिथिला संस्कृति एवं मंदिर मस्जिद से सुशोभित है,इस जिला के हिन्दू मुस्लमान की एकता पुरे देश के लिए मिसाल है,

यहाँ सभी जाती धर्म के लोग आपस में मिलजुल कर त्यौहार मनाते है | इस जिला की राजनीती सिमांचल की राजनीती की पहचान है | साथ ही साथ राजनीती की दशा और दिशा बदलने की भी क्षमता रखती है | अररिया में एक समाज सेविका ने जन्म लिया जिन्होंने अररिया के समाज सेव में अपनी जान लगा दी थी | जिनका नाम कलावती था |

जो अररिया के महिलाओ को सिक्षा को लेकर फैलाये करती थी, कलावती के समाज कार्य को देखते हुवे इन्हें पद्मश्री अवार्ड से नवाजा गया था, अररिया की गिनती पर्यटन क्षेत्र को लेकर भी की जाती है | पार्क जो पुरे सिमांचल में अररिया को एक अलग पहचान दिलाती है | इस पार्क में लोग दूर दूर से पिकनिक मानाने तथा अपने परिजनों के साथ सुनहरे समय को व्यतीत करने के लिए आते है|

अररिया जिला धार्मिक स्थल 

अररिया जिला में प्रसिद्ध मंदिर मस्जिद भी है,इस जिला की खासियत यह है पूर्व किसी भी धर्म का क्यों न हो हेल्प बढ़ जाती है लोग आपस में मिल जुलकर त्यौहार मानते है,अररिया जिला के अंतर्गत 751 गावं है,

अररिया में बोली जाने वाली भाषा 

अररिया में बोली जाने वाली भाषा हिंदी,मैथिलि,बंगला,उर्दू,और कुल्हैय्या है. यहाँ पर कुल्हैय्या भाषा भी बोली जाती है | इसके अलावा भी और अनेक प्रकार को भाषा अररिया जिला में बोली जाती है |

अररिया जिला का क्षेत्रफल 

अररिया का क्षेत्र विस्तार की गति से बढ़ता ही जा रहा है | मुख्य बजार जिरोमाईल है यहाँ से पूर्णिया किशंगंज फारबिसगंज यहाँ तक की नेपाल के लिए गाडी चलती है| जिरोमाईल में अनाज मंडी भी है |

अररिया जिला इतिहास 

1964 में तत्कालीन पूर्णिया जिला का वर्तमान समय के जिला का क्षेत्र अररिया उपखंड बन गया| अररिया जिला जनवरी 1990 में पूर्णिया प्रमंडल के तहत प्रशासनिक जिला बन गया| और उस समय अररिया में विधायक के तौर पर मरहूम तस्लीमुद्दीन जी थे |

अररिया का भूगोल 

अररिया जिला में 2830 वर्ग किलोमीटर का क्षेत्रफल है | अररिया जिला की प्रमुख नदियाँ कोसी,सुवाडा,काली,परमार,और कोली है|

अररिया का अर्थवय्वस्था 

अररिया जिला की अर्थवय्वस्था मुख्य रूप से कृषि पर ही निर्भर करती है | इस जिला का मुख्या कृषि उत्पादन धान,मक्का,और जूट है| 

अररिया जिला का मुख्य जगह

  • राजू स्टोर अररिया (Raju Store Araria)
  • फ़ास्ट फैशन अररिया (Fast Fashion Araria)
  • कुशियारगावं पार्क (Kushiyargaon Park Araria)
  • जमा मस्जिद अररिया (Jama Masjid Araria)
  • कलि मंदिर अररिया (Kali Mandir Araria)
  • नाज गैलेक्सी अररिया (Naz Galaxy Araria)
  • मोबाइल प्लाजा अररिया (Mobile Plaza Araria)
  • मीरा हॉल अररिया (Meera HALL Araria)
  • जीरोमाइल अररिया (Zeromile Araria)
  • अररिया कॉलेज अररिया (Araria College Araria)

अररिया जिला ऑफिसियल वेबसाइट 

https://araria.nic.in/

जिला पदाधिकारी 

श्री प्रशांत कुमार 

संपर्क = [email protected]

टेलीफोन नंबर =06453-2220001 (कार्यालय)

पुलिस अधियक्ष 

श्री अशोक कुमार सिंह 

संपर्क = [email protected]

टेलीफोन नंबर – 006453-222075(आवास)

अररिया जिले में कितने गांव हैं?

अररिया जिले में 745 गांव है जो की, बिहार में कुल ग्रामों की संख्या का 1.61 प्रतिशत है और भारत के गांव का 0.12 प्रतिशत के लगभग है

अररिया जिला में कितने प्रमंडल है?

यहाँ से पर्वत कचनजंगा (हिमालयन रेंज के महान चोटियों में से एक) का दृश्य देखा जा सकता है| इस जिले में कुल 2 उपखंड अररिया और फारबिसगंज एवं 9 प्रखंड हैं । अररिया उपखंड में छह प्रखंड अररिया, जोकीहाट, कुर्साकांटा, रानीगंज, सिकटी और पलासी एवं फारबिसगंज उपखंड में तीन प्रखंड फारबिसगंज, नरपतगंज और भरगामा हैं ।

अररिया जिला की स्थापना कब हुई?

14 जनवरी 1990 को 31 सालों के संघर्ष के बाद अररिया को मिल पाया था जिले का दर्जा

अररिया जिला का SP कौन है?

अररिया की वर्तमान एसपी श्री अशोक कुमार सिंह अररिया का एसपी बनाया गया है।

अररिया के डीएम कौन है?

श्री प्रशांत कुमार सी०एच० (भा० प्र० से०)

और पढ़े 

(पंजीयन) बिहार डीजल अनुदान योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फार्म

E Kalyan Bihar 10th Pass Scholarship 2022 – ई कल्याण बिहार मुख्यमंत्री योजना

Bihar All 38 District Official Website List 2022, Bihar Government Directory List

Leave a Comment

Severe thunderstorm warnings across SE Michigan expire Lawyers for Alex Jones turned over evidence that contradicted U.S. Rep Jackie Walorski, three others killed in Elkhart County crash Pelosi expected to visit Taiwan, Taiwanese and US officials say Deshaun Watson Suspended Six Games by the N.F.L.